देश मध्यप्रदेश

प्लेन क्रैश से पहले शिखा ने पति को किया था SMS, अधूरा रह गया वादा

“मैंने फ्लाइट पर बोर्डिंग कर ली है, फ्लाइट के लैंड होते ही मैं तुम्हें कॉल करूंगी.” शिखा गर्ग ने अपने पति सौम्या भट्टाचार्य को सुबह 10 बजे ये मैसेज किया था. रविवार को अदीस अबाबा से उड़ान भरने के कुछ मिनट बाद इथोपियन एयरलाइन्स का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था जिसमें शिखा गर्ग समेत 4 भारतीयों की मौत हो गईसुबह 10.15 बजे सौम्य ने रिप्लाई टाइप करना शुरू किया लेकिन तभी उनका फोन बजा और आवाज आई, “आपकी पत्नी का प्लेन क्रैश हो गया है.” इसके बाद सौम्य के सामने सब कुछ धुंधला पड़ गया. दोनों की शादी को केवल 3 महीने ही हुए थे. पर्यावरण मंत्रालय में सलाहकार के तौर पर काम कर रहीं शिखा यूएनईपी की एक बैठक के लिए नैरोबी जा रही थी. सौम्य और उनका परिवार दिल्ली के पश्चिम विहार में रहता है.अगर अंतिम वक्त पर शिखा के पति का प्लान ना बदला होता तो शायद वह भी इस दुर्घटना का शिकार हो गए होते अगर अंतिम वक्त पर शिखा के पति का प्लान ना बदला होता तो शायद वह भी इस दुर्घटना का शिकार हो गए होते.सौम्य के परिवार ने बताया, सौम्य भी शिखा के साथ उसी फ्लाइट में होता अगर आखिरी वक्त पर उसका प्लान नहीं बदला होता. कपल ने नैरोबी की बैठक के बाद एक छुट्टी प्लान की थी और सौम्य ने अपनी फ्लाइट टिकट भी खरीद लिया था.शिखा ने ट्रिप महीने के अंत में प्लानिंग की थी और शिखा के टिकट बुक करने के बाद सौम्य ने कहा कि वह भी उसके साथ नौरोबी जाएगा ताकि दोनों अफ्रीका हॉलिडे एंजॉय कर सकें. अपना टिकट बुक करने के बावजूद सौम्य को एक मीटिंग की वजह से प्लान बदलना पड़ा.शिखा ने दिल्ली से अपनी स्कूलिंग और ग्रैजुएशन किया था. वह सौम्य को 3 साल पहले से जानती थीं. सौम्य भी यूएन एन्वायरमेंट प्रोग्राम (UNEP) में काम करते हैं और इससे पहले यूएन डिवलेपमेंट प्रोग्राम के साथ भी रहे हैशिखा इथोपियन बोइंग 737 मैक्स 8 विमान हादसे में जान गंवाने वाले 4 भारतीयों में से एक थीं. इथोपियन विमान हादसे में सभी 157 यात्रियों की मौत हो गई थीं.विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर बताया कि उन्होंने शिखा गर्ग, मनीषा और वैद्या के परिजनों से बात की और उन्हें हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया.